खबरें

UNSC: बाइडन ने किया भारत की स्‍थाई सदस्‍यता का समर्थन, जानें

0
भारत की स्‍थाई सदस्‍यता

UNSC: अमेरिकी राष्‍ट्रपति जॉ बाइडेन ने संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) में सुधार की बात दोहराते हुए भारत की स्‍थाई सदस्‍यता का समर्थन किया। उनका मानना है कि,  संस्‍था को अधिक समावेशी एवं समृध्‍द बनाने का सही समय आ गया है। ताकि, आज के आधुनिक जमाने की जरूरतों को बेहतर ढ़ंग से पूरा किया जा सके।

बाइडेन प्रशासन के एक वरिष्‍ठ अधिकारी से यह जानकारी मिली है कि, बाइडेन ने UNSC में भारत, जापान और जर्मनी के स्‍थाई सदस्‍य बनाए जाने का समर्थन किया है। हालांकि  इस दिशा में अभी बहुत काम बांकि है। उन्‍होंने बताया कि ”हम पहले भी यह मानते थे और आज भी यह बात मानते हैं कि भारत, जापान एवं जर्मनी को सुरक्षा परिषद में स्‍थाई सदस्‍य के रूप में शामिल किए जानें चाहिए।

बाइडन ने दोहराई सुरक्षा परिषद में सुधार की बात:

अमेरिकी राष्‍ट्रपति बाइडेन ने संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा के सत्र में अपने संबोधन में सुरक्षा परिषद में सुधार की बात फिर से दोहराई है। उन्‍होंने कहा कि, वक्‍त आ गया है जब संस्‍था को और समावेशी एवं समृध्‍द बनाया जाए। ताकि यह आज के युग की जरूरतों को बेहतर ढ़ग से पूरा किया जा सके।

वीटो पावर पर दिया बड़ा बयान:

बाइडेन ने कहा कि सुरक्षा परिषद के सभी सदस्‍यों को संयुक्‍त राष्‍ट्र चार्टर की रक्षा करनी चाहिए एवं वीटो से बचना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि, वीटो सिर्फ विशेष अथवा विषम परिस्थितियों में ही होना चाहिए। ताकि परिषद की विश्‍वसनीयता और प्रभाव को बनाये रखा जा सके। यही कारण है कि, अमेरिका सुरक्षा परिषद में स्‍थाई एवं अस्‍थाई दोनों तरह के सदस्‍यों की संख्‍या बढ़ाने पर जोर देता रहता है। इनमें वे देश भी शामिल हैं, जिनकी स्‍थाई सदस्‍यता की मांग पर हम लंबे समय से समर्थन करते चले आ रहे हैं।

बाइडेन ने कि पाकिस्‍तान की मदद की अपील :

राष्‍ट्रपति बाइडेन ने अंतर्राष्‍ट्रीय समुदाय से पाकिस्‍तान की मदद एवं उसे आर्थिक संकट से निकालने में सहायता करने का आग्रह किया है। पाकिस्‍तान अभूतपूर्ण बाढ़ और आर्थिक संकट जैसी संस्‍याओं से जूझ रहा है। उन्‍होंने कहा कि, हम सभी जानते हैं कि पूरा विश्‍व आज जलवायु परिवर्तन के खतरे से जूझ रहा है, इसमें कोई संदेश नहीं है। पाकिस्‍तान का अधिकांश हिस्‍सा अभी भी पानी से डूबा हुआ है। उसको हम सभी की मदद की जरूरत है। राष्‍ट्रपति ने अपने संबोधन में दुनिया में बाढ़ से डूबे दशों की मदद करने को कहा, जहां बाढ़ में 14 जून से अबतक कुल 1576 लोगों की मौत हो चुकी है और हजारों लोग घायल हैं।

सुरक्षा परिषद से रूस को रोकने की अपील:

UNSC की बैठक में अमेरिकी  विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने  संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद से रूस को रोकने की अपील की है। उन्‍होंने हर सदस्‍य राष्‍ट्र से रूस को स्‍पष्‍ट संदेश देने को कहा है। उन्‍होंने आहृान किया कि, रूसी परमाणु हमले की धमकी हर हाल में रोकी जानी चाहिए। रूस के राष्‍ट्रपति पुतिन ने इस सप्‍ताह की शुरूआत में कहा था कि, राष्‍ट्र को खतरा होने पर अपने लोगों की रक्षा के लिए परमाणु शक्ति संपन्‍न उनका देश हर उपलब्‍ध विकल्‍प का उपयोग कर सकता है।

 

Kusum
I am a Hindi content writer.

Comments

Leave a reply

Your email address will not be published.